HomeBlogging2021 मे Blogpost कितने Word का लिखें और Blog के लिए आर्टिकल...

2021 मे Blogpost कितने Word का लिखें और Blog के लिए आर्टिकल कितने Word का होना चाहिए

2021 मे Blog के लिए आर्टिकल कितने Word का होना चाहिए

Blogpost कितने Word का लिखें: तो दोस्तों मैं फिर से आप के लिए इस आर्टिकल मे एक बोहोती इम्पोर्टेन्ट बात डिसकस करने वाला हु। ये डिसकस है 2021 मे Blogpost कितने Word का लिखें और Blog Post कितने Word का होना चाहिए इसको लेकर। 

ऐसे बोहोत सारे लोग है जो की Blog क्या है और ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए जाते है ये सब जानने के बाद एक ब्लॉग Create कर लेते है। फिर उस ब्लॉग को अच्छी तरह से Customize करके सभी Policy Pages वगेरा भी बना लेते है और आपने Site को Google Search Console मे भी Submit कर देते है। 

ये सब कुछ Tasks ख़तम करने के बाद जब वो आपने Blog के लिए आर्टिकल लिखने जाते है तब वो समझ ही नहीं पाते है की टॉपिक ढूंढ लिया अच्छे से Keyword Research भी कर लिया। इन सबके बाद भी अगर कोई और प्रश्न आता है तो वो है Words Number यानि शब्द संख्या Blog Post । हा, सभी प्रश्न के साथ साथ ये प्रश्न भी बोहोती मेहतपूर्ण है। 

क्योंकि अक्सर जब नए ब्लॉगर ब्लॉग के लिए आर्टिकल लिखने जाते हैं तो फिर वह यह समझ ही नहीं पाते हैं कि वह अपने ब्लॉग पोस्ट को कितने Word का लिखें। तो इसीलिए मैं इस आर्टिकल में आपको 2021 मे Blogpost कितने Word का लिखें यह पूरी जानकारी के साथ बताऊंगा कितने Word का आर्टिकल लिखना चाहिए जिससे कि वह आर्टिकल गूगल पर भी रैंक करें और जो रीडर आपके ब्लॉग पर आए वह उस आर्टिकल को पढ़कर सब कुछ समझ भी जाये। 

2021 मे ब्लॉग पे ट्रैफिक कैसे लाये: 8 सबसे बढ़िया तरीका

2021 मे Blog Post लिखने का 5 अच्छा तरीका | blog Ke Liye Article Kaise Likhe | ब्लॉग लेखन क्या है

2021 मे सक्सेसफुल ब्लॉगर कैसे बन सकते है | How to be successful blogger in 2021

2021 मे Blogpost कितने Word का लिखें 

ब्लॉग के लिए post कितने word मे लिखू

तो दोस्तों एक ब्लॉग आर्टिकल कितने word का होना चाहिए इसके ऊपर अभी भी कोई Fixed नंबर नहीं आया है, और कभी आएगा भी नहीं। क्यों की एक Blog Post का Word तय करता है जिस Topic के ऊपर लिख रहे है वो Topic। 

इसका मतलब जिस Topic को जितने Word मे पूरा का पूरा समझाया जा सकता है उतने Word मे ही लिखने की कोसिस कीजिये। उदाहरण स्वरूप मान लीजिये आप एक Topic पर Post लिख रहे है ‘OTP kya hai’ इस Topic के ऊपर। 

और आप सिर्फ आर्टिकल में यह बताएं कि ‘OTP एक ऐसा पिन होता है जिसको एक बार इस्तेमाल किया जाता है और इस का फुल फॉर्म है One Time Password।’ बस इतना ही। 

तो ऐसा नहीं होगा। क्योंकि वह यह तो जान जाएगा कि ‘OTP क्या होता है’ लेकिन फिर भी उसके मन में बहुत Doubts रह जाएगा। लेकिन अगर आप OTP क्या है इस प्रश्न का उत्तर मे “ओटीपी का मतलब क्या है, ओटीपी का हिंदी मतलब क्या है, ओटीपी का फुल फॉर्म क्या होता है,  और ओटीपी क्यों यूज़ किया जाता है, ओटीपी के फायदे, ओटीपी के नुकसान और ओटीपी कितने प्रकार के होते हैं” यह सभी अपने आर्टिकल में इनपुट करेंगे और इन सभी का उत्तर आप बहुत ही बढ़िया से देंगे तो वह आर्टिकल एक बहुत ही बढ़िया आर्टिकल बन जाएगा। 

और वह आर्टिकल अगर कोई भी रीडर्स पड़ेगा तो उसको ओटीपी के बारे में सारी जानकारी मिल जाएगा और फिर वह दूसरा कोई भी साइट पर नहीं जाएगा। 

इसका मतलब तो आप समझ ही गए होंगे। एक आर्टिकल को ऐसा होना चाहिए कि आप जिस टॉपिक पर लिख रहे हैं उस टॉपिक को जो जानना चाहता है वह आपके आर्टिकल को पढ़कर उस टॉपिक से जुड़े सारे जानकारी प्राप्त कर सकें।

और भी जानकारी के लिए बता दूं कि एक आर्टिकल को कम से कम 600 शब्द का होना चाहिए। हां 600 शब्द का अगर आपका आर्टिकल होगा तो यह बहुत ही बढ़िया है। मैं यह मेरे पर्सनल Experience से बता रहा हूं। एक आर्टिकल अगर 600 शब्द या फिर इससे ज्यादा होता है तो फिर उस आर्टिकल अथॉरिटी बढ़ जाता है। और वह आर्टिकल बहुत थी अट्रैक्टिव भी लगता है। इसके अलावा भी अगर आप चाहते हैं आपके आर्टिकल को इससे भी बड़ा बनाने के बारे में तो उसे भी आप कर सकते हैं

लेकिन याद रखना आर्टिकल में कोई भी घिसापिटा विषय को बार-बार मत दोहराना। जैसे ओटीपी का फुल फॉर्म है One Time Password वैसे ही आप एक आर्टिकल में 5 से 7 बार यह यूज़ करते हैं, तो फिर यह रीडर्स को बहुत ही बोर कर देता है। इसीलिए आप जब आर्टिकल को लिखना शुरू करें उस आर्टिकल को शुरू से खत्म तक बस नए-नए जानकारी लाइए। जोकि रीडर जब पड़ेगा उसे तो फिर हर लाइन में उसे नए-नए जानकारी मिलेगा और यह आप जितने वर्ड्स में कर सकते हैं उतने Word मे हीं आर्टिकल लिखिए। लेकिन कम से कम 600 शब्द में लिखने की कोशिश करें। 

निष्कर्ष

उम्मीद है कि आपको मेरा यह जानकारी अच्छा लगा होगा। मैं इस ब्लॉग में जो भी जानकारी देता हूं वह सभी मेरे खुद के Experiencea से देने की कोशिश करता हूं। यानी मैंने ब्लॉगिंग के कैरियर में जो भी कुछ सीखा है जाना है उन सभी को मिलाकर मैं आपके सभी प्रॉब्लम को सॉल्व करने की कोशिश करता हूं। 

सिर्फ यही नहीं इस ब्लॉगिंग के करियर में मैंने जो भी नए-नए चीजें सीखी है जाना है उन सभी को मिलाकर मैं आपको ब्लॉगिंग को और भी आसान बनाने की तरीका भी बताता हु। इसीलिए अगर आप इस से रिलेटेड कोई भी जानकारी या फिर कोई भी Tips ढूंढ रहे हैं तो फिर हमारे Blog को जरूर से सब्सक्राइब या फिर फॉलो करते रहना। इससे आपको बहुत ही हेल्प मिल जाएगा और एक बात आप हमारे से Direct Comment भी कर सकते हैं। बस नीचे Comment कीजिए और फिर मैं छत पर आपके कमेंट का रिप्लाई दूंगा तो चलते हैं बस आज इतना ही।

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read